You are currently viewing एससी, एसटी, ओबीसी के युवक-युवतियों को स्वरोजगार के लिए चार माह का मिलेगा प्रशिक्षण
एससी, एसटी, ओबीसी के युवक-युवतियों को स्वरोजगार के लिए चार माह का मिलेगा प्रशिक्षण

एससी, एसटी, ओबीसी के युवक-युवतियों को स्वरोजगार के लिए चार माह का मिलेगा प्रशिक्षण

Spread the love

एससी, एसटी, ओबीसी के युवक-युवतियों को स्वरोजगार के लिए चार माह का मिलेगा प्रशिक्षण

खीरी में संचालित होगी सामूहिक प्रशिक्षण योजना, ऑनलाइन करें आवेदन, उठाएं लाभ

29 जुलाई ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि : संजय

लखीमपुर खीरी 22 जुलाई। उद्योग निदेशालय, उप्र कानपुर द्वारा संचालित अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति,अन्य पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों के स्वरोजगार हेतु सामूहिक प्रशिक्षण योजना के क्रियान्वयन हेेेेतु जनपद खीरी में अनुसूचित जाति एवम् अनुसूचित जनजाति के युवक-युवतियों को स्वःरोजगार स्थापित करने हेतु 04 माह का प्रशिक्षण टेलरिंग, इलेक्ट्रिशियन ट्रेडो मेें, अन्य पिछड़ा वर्ग योजना के तहत टेलरिंग, बिजली के छोटे मोटे सामानो की रिपेयरिंग हेतु ट्रेडो में दिया जाएगा। उक्त आशय की जानकारी उपायुक्त उद्योग संजय सिंह ने दी।

उन्होंने बताया कि उक्त सम्बन्धित योजनाओं में प्रशिक्षण प्राप्त करने के इच्छुक अभ्यर्थी वित्तीय वर्ष 2022-23 में वेब साईड पर ऑनलाइन कर सकते हैं। आवेदन पत्र ऑनलाइन ही मान्य होगा, आफ लाइन आवेदन पत्र स्वीकार नही किये जायेगें। वित्तीय वर्ष 2022-23 हेतु 29 जुलाई 2022 तक वेब साईड पर ऑनलाइन आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं। विस्तृत जानकारी हेतु कार्यालय-उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग प्रोत्साहन एवं उद्यमिता विकास केन्द्र खीरी से किसी भी कार्य-दिवस में कोविड की गाईड लाइन को दृष्टिगत रखते हुए सम्पर्क स्थापित किया जा सकता है।

ओबीसी के युवक-युवतियों को स्वरोजगार के लिए चार माह का मिलेगा प्रशिक्षण

यह है प्रशिक्षार्थियों की पात्रता :
आवेदन करने की तिथि को प्रशिक्षार्थी की आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिये। प्रशिक्षार्थी उप्र/जनपद का मूल निवासी होना चाहिये। शैक्षिक योग्यता जू.हाई. अथवा समकक्ष, जाति प्रमाण पत्र। आवेदक द्वारा भारत सरकार अथवा प्रदेश सरकार की अन्य किसी योजना के तहत विगत दो वर्षो में लाभ प्राप्त न किया गया हो। आवेदक अथवा उसके परिवार (पति-पत्नी) के किसी सदस्य को योजना के तहत केवल एक बार ही लाभान्वित किया जायेगा। आवेदक द्वारा पात्रता की शर्तो को पूर्ण किये जाने के सम्बन्ध में घोषणा पत्र प्रस्तुत किया जायेगा।

अन्य पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों के प्रशिक्षण की योजना ,उ0प्र0

अन्य पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों में कौशल विकास संवर्धन के माध्यम से उद्यमशीलता बढ़ाने के उद्देश्य से प्रशिक्षण कराया जाएगा। यह प्रशिक्षण जनपद में चार माह की अवधि का होगा, जिसमें कुल 37 प्रशिक्षार्थी लिए जाएंगे।अभ्यर्थियों को एक माह का सैद्धांतिक प्रशिक्षण एवं 03 माह का व्यवहारिक प्रशिक्षण विभिन्न क्षेत्रीय इकाइयो / सेवा केन्द्रो पर दिया जाता है|प्रशिक्षण कार्यक्रम समाप्त हो जाने के पश्चात अभ्यर्थियों को संबन्धित ट्रेड़ों की टूलकिट दी जाती है|

अनु0 जाति/ जनजाति के व्यक्तियों के प्रशिक्षण की योजना,उ0प्र0

योजनान्तर्गत अनुसूचित जाती / जनजाति युवक/ युवतियो को चयनित कर उनमे स्किल्ड डेवलपमेंट विकसित हेतु स्थानीय स्तर पर उद्यमियों की मॉग के अनुसार व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है| अभ्यर्थियों को एक माह का सैद्धांतिक प्रशिक्षण एवं 03 माह का व्यवहारिक प्रशिक्षण विभिन्न क्षेत्रीय इकाइयो / सेवा केन्द्रो पर दिया जाता है|प्रशिक्षण कार्यक्रम समाप्त हो जाने के पश्चात अभ्यर्थियों को संबन्धित ट्रेड़ों की टूलकिट दी जाती है|


Spread the love

Leave a Reply